स्वतंत्र आवाज़
word map

स्कूल व घर में खेल हों अनिवार्य-राठौर

दिल्ली में हुई सीआईआई बिग पिक्चर की समिट

'देश में खेलों को बढ़ावा देने पर सरकार प्रतिबद्ध'

स्वतंत्र आवाज़ डॉट कॉम

Thursday 7 December 2017 02:45:43 AM

col. rajyavardhan singh rathore at the big picture summit

नई दिल्ली। केंद्रीय युवा मामले एवं खेल और सूचना एवं प्रसारण राज्यमंत्री कर्नल राज्यवर्धन राठौर ने कहा है कि खेलों को स्कूलों में अनिवार्य बनाने से पूर्व घरों में भी अनिवार्य बनाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि भारत में खेलों को हर घर में पहुंचाने के लिए मीडिया की महत्वपूर्ण भूमिका है। कर्नल राज्यवर्धन राठौर सीआईआई बिग पिक्चर समिट को संबोधित कर रहे थे। देश में खेलों को बढ़ावा देने में मोबाइल फोन एप्लेकिशनों की भूमिका पर युवा मामले एवं खेल राज्यमंत्री ने कहा कि खेल संबंधी सूचनाएं मोबाइल एपों के माध्यम से सहज रूपसे उपलब्ध होनी चाहिएं।
युवा मामले एवं खेल राज्यमंत्री कर्नल राज्यवर्धन राठौर ने सुझाव दिया कि देश में खेल संबंधी आधारभूत संरचनाओं को जानने के लिए मोबाइल एपों का इस्तेमाल किया जा सकता है, ताकि नागरिक अपने आस-पास खेल सुविधाओं से अवगत रहें। खेलों को बढ़ावा देने में भारत सरकार के प्रयासों के बारे में कर्नल राज्यवर्धन राठौर ने कहा कि सरकार अनुसंधान और विकास के लिए 6 खेल विश्वविद्यालयों को पहले ही राशि उपलब्ध करा चुकी है। उन्होंने कहा कि सरकार सभी निर्माताओं को सर्वश्रेष्ठ खेल उपकरण बनाने के लिए एक स्थान पर लाने और भारत को स्वस्थ एवं खुशहाल देश बनाने के सभी प्रयास कर रही है।

हिन्दी या अंग्रेजी [भाषा बदलने के लिए प्रेस F12]