स्वतंत्र आवाज़
word map

पर्यावरण क्विज प्रतियोगिता 'प्रकृति खोज'

बच्चों और युवाओं तक में जागरुकता की पहल

शिक्षक दिवस पर क्विज़ की होगी शुरूआत

स्वतंत्र आवाज़ डॉट कॉम

Saturday 2 September 2017 03:54:03 AM

environment

नई दिल्ली। केंद्रीय पर्यावरण मंत्रालय ने पर्यावरण जागरूकता पहल की है, जिसके तहत राष्ट्रीय स्तर पर पर्यावरण क्विज प्रतियोगिता प्रकृति खोज नाम से आयोजित की जाएगी। यह क्विज 5 सितंबर को शिक्षक दिवस पर शुरू हो रही है, जो युवाओं में पर्यावरण सुरक्षा और संरक्षण के प्रति संवेदनशीलता बढ़ाने के लिए मज़ेदार तरीके से एक-दूसरे से सीखने के जरिये युवाओं तक पहुंचने का आदर्श माध्यम होगी। यह प्रतियोगिता छात्रों को पर्यावरण के मुद्दों पर उनकी जागरूकता के स्तर को मापने के लिए विशिष्ट मंच उपलब्ध कराएगी। इसका उद्देश्य पर्यावरण मंत्रालय के संरक्षण और सुरक्षा से संबंधित प्रमुख कार्यक्रमों में प्रतिभागिता के लिए युवाओं को प्रोत्साहित करना है, स्कूली बच्चों के बीच पर्यावरण से जुड़े विज्ञान के बारे में रूचि पैदा करना, इसकी समस्याओं पर चर्चा करना, बच्चों और युवाओं को पर्यावरण एवं विकास के प्रति संवेदनशील बनाने तथा पर्यावरण संरक्षण से जुड़ी जीवनशैली अपनाने को प्रेरित करना है। इससे बच्चे और युवा प्रकृति की सराहना करने और संरक्षण के प्रति संवेदनशील होंगे, जिससे विभिन्न स्तरों पर सकारात्मक पर्यावरणीय कार्य होंगे।
क्विज के दो चरण होंगे। पहले चरण में मंत्रालय के राष्ट्रीय हरित कोर यानी एनजीसी कार्यक्रम के अंतर्गत बड़ी संख्या में स्कूली बच्चों को पर्यावरणीय क्विज में प्रतिभागिता का अवसर मिलेगा। देश के स्कूलों में पर्यावरण क्लब बनाकर बच्चों में पर्यावरण के प्रति जागरूकता पैदा करने के लिए मंत्रालय ने 2001-02 में एनजीसी की शुरूआत की थी। देशभर में लगभग एक लाख पर्यावरण क्लब हैं, जिनमें यह सबसे बड़े पर्यावरण संरक्षण नेटवर्क में से एक है। इसके तहत छात्र स्वच्छता अभियान, कचरे को अलग-अलग करना, जैविक कचरे से कंपोस्ट तैयार करना, नुक्कड़ नाटक जैसी विभिन्न गतिविधियों में शामिल होते हैं। पहले चरण में 3 आयु समूह में 8 से 12 वर्ष, 13 से 15 वर्ष और 16 से 18 वर्ष को शामिल करने की योजना है, जिसमें केवल पर्यावरण क्लब के छात्र ही शामिल होंगे। इसके बाद प्रतिभागियों से मिली प्रतिक्रिया के आधार पर वर्ष 2018 में देशभर के सभी स्कूलों के छात्रों के लिए क्विज का दूसरा चरण शुरू होगा।
क्विज बहुविकल्पी प्रश्नों के जरिये ऑनलाइन होगी। क्विज में जलवायु परिवर्तन, जैव विविधता, वन और वन्यजीव, प्रदूषण, अपशिष्ट प्रबंधन, नदियों और झीलों, प्रकृति का इतिहास, जैव विविधता सम्मेलन, संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन फ्रेमवर्क सम्मेलन जैसे अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलनों के बारे में प्रश्न होंगे। क्विज पर जानकारी के लिए मंत्रालय ने एक अलग वेबपार्टल www.ngc.nic.in विकसित किया है। प्रकृति खोज पोर्टल और मंत्रालय की वेबसाइट पर क्विज की तिथि के बारे में जानकारी दी जाएगी। पर्यावरण क्लब के जिन छात्रों ने पोर्टल पर पंजीकरण कराया है वे 18 सितंबर, 2017 से क्लाविफिकेशन दौर में हिस्सा ले सकते हैं।

हिन्दी या अंग्रेजी [भाषा बदलने के लिए प्रेस F12]