स्वतंत्र आवाज़
word map

प्रधानमंत्री ने देखीं चावल की कई किस्में

फिलीपींस के लॉस बनोस में चावल शोध संस्थान

प्रधानमंत्री ने की भारतीय वैज्ञानिकों से बातचीत

स्वतंत्र आवाज़ डॉट कॉम

Tuesday 14 November 2017 12:56:52 AM

narendra modi visiting the international rice research institute

लॉस बनोस/ नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फिलीपींस में लॉस बनोस में अंतर्राष्ट्रीय चावल शोध संस्थान यानी आईआरआरआई का दौरा किया। आईआरआरआई एक महत्वपूर्ण शोध संस्थान है, जो चावल विज्ञान के जरिए ग़रीबी और भुखमरी में कमी करने, चावल उत्पादकों एवं उपभोक्ताओं का स्वास्थ्य बेहतर करने, खुशहाली बढ़ाने एवं भावी पीढ़ियों के लिए चावल पैदावार हेतु अनुकूल माहौल बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध है। प्रधानमंत्री ने फोटो प्रदर्शनी भी देखी, जिसमें बाढ़ रोधी चावल किस्‍मों, सूखा रोधी चावल किस्‍मों, लवणता रोधी चावल किस्‍मों और महिला कृषि सहकारी समितियों के साथ आईआरआरआई के कार्यों से जुड़ी फोटो प्रदर्शित की गई थीं।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डूब रोधी चावल किस्मों के रोपण के लिए एक नए भूखंड में प्रतीकात्मक रूपसे मिट्टी खोदी। उन्होंने ‘श्रीनरेंद्र मोदी रिसिलिएंट राइस फील्‍ड लैबोरेटरी’ के उद्घाटन पर एक पट्टिका का अनावरण किया और आईआरआरआई जीन बैंक को चावल बीज की दो भारतीय किस्में सौंपीं। यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री ने आईआरआरआई में कार्यरत भारतीय वैज्ञानिकों से बातचीत की। प्रधानमंत्री ने मनीला में महावीर फिलीपीन फाउंडेशन का भी दौरा किया, यह भारत और फिलीपींस के बीच दीर्घकालिक मानवीय सहयोग कार्यक्रम है। इसकी स्थापना मनीला के भारतीय मूल के मेयर डॉ रमन बगटसिंग ने की थी। महावीर विकलांग सहायता समिति के सहयोग से इस फाउंडेशन ने जरूरतमंदों को आवश्‍यक पैर सुलभ कराने के लिए ‘जयपुर फुट’ की फिटमेंट में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। प्रधानमंत्री ने ‘जयपुर फुट’ से लाभांवित लोगों से भी बातचीत की।

हिन्दी या अंग्रेजी [भाषा बदलने के लिए प्रेस F12]