स्वतंत्र आवाज़
word map

ब्रह्मलीन महंत महेंद्रनाथ श्रद्धा से याद किए गए

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ पुण्यतिथि कार्यक्रम में शामिल हुए

दूर-दूर से देवीपाटन मंदिर पहुंचे श्रद्धालु और आस्‍थावान

स्वतंत्र आवाज़ डॉट कॉम

Saturday 11 November 2017 02:56:41 AM

brahmaline mahant mahendranath ki purnaithi

देवीपाटन गोंडा। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जनपद बलरामपुर में विश्व प्र्रसिद्ध देवीपाटन मंदिर और शक्तिपीठ के महंत ब्रह्मलीन महेंद्रनाथ की 17वीं पुण्यतिथि पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए और कहा कि देवीपाटन मंदिर को विकसित करने में ब्रह्मलीन महंत महेंद्रनाथ का महत्वपूर्ण योगदान रहा है, उन्होंने जनता के कल्याण और‌ क्षेत्र के विकास के लिए यहां कई अनुकरणीय कार्यक्रम संचालित किए। गौरतलब है कि देवीपाटन शक्तिपीठ मंदिर न केवल इस क्षेत्र में बल्कि दूर-दूर तक धार्मिक और आध्यात्मिक रूपसे विख्यात है।
योगी आदित्यनाथ ने इस अवसर पर अपने आध्यात्मिक विचारों को प्रकट करते हुए कहा कि धर्म हमें स्वच्छता के साथ-साथ पर्यावरण की रक्षा करने की भी सीख देता है और चिंता का विषय है कि अवैध खनन एवं हरे पेड़ों के कटान से प्रकृति का संतुलन बिगड़ रहा है। उन्होंने दृढ़तापूर्वक कहा कि सरकार खनन माफियाओं तथा पेड़ों का कटान करने वालों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई करेगी। उन्होंने जनता से आग्रह किया कि वह सरकार द्वारा चलाए जा रहे विकास और कल्याण कार्यक्रमों का लाभ उठाए और मिलजुलकर रहे। योगी आदित्यनाथ काफी देर देवीपाटन मंदिर में रहे। इस मंदिर के संचालन भी गोरक्षपीठ से होता है।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रकृति ने हमें जीवन जीने लायक वातावरण दिया है, उससे सामंजस्य स्‍थापितकर चलना चाहिए। उन्होंने मंदिर परिसर और शक्तिपीठ का निरीक्षण किया एवं नेपाल और दूर-दराज से आए महंतों, साधु-संतों, अनुयायियों, शिष्यों, जनप्रतिनिधियों, भाजपा कार्यकर्ताओं आदि से मुलाकात की, उनकी समस्याओं को सुना। इस मौके पर शक्तिपीठ पर श्रद्धालुओं का बड़ा समागम था। नेपाल राष्ट्र से नेपाल के सांसद अभिषेक प्रताप शाह आए थे। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार भारत और नेपाल के बीच के संबंधों को प्रगाढ़ करने के लिए बहुत कार्य कर रही है।

हिन्दी या अंग्रेजी [भाषा बदलने के लिए प्रेस F12]