स्वतंत्र आवाज़
word map

निवेश के लिए राजनीतिक स्थिरता जरूरी-पंत

मुंबई में सीआईआई इन्वेस्ट नॉर्थ में उत्तराखंड की प्रस्तुति

उत्तराखंड में मेडिकल पर्यटन को भी बढ़ाने की कोशिशें

स्वतंत्र आवाज़ डॉट कॉम

Saturday 4 November 2017 01:04:35 AM

cii investment north

मुंबई/ देहरादून। उत्तराखंड सरकार के वित्तमंत्री प्रकाश पंत ने मुंबई में सीआईआई इन्वेस्ट नॉर्थ 2017 के 6ठवें संस्करण को संबोधित किया। उत्तराखंड में व्यापार और निवेश की अपार संभावनाओं पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि इस प्रकार के मेगा इवेंट्स सभी प्रकार के व्यवसायों को भारत के उत्तरी राज्यों के साथ जोड़ने में मदद करते हैं। उन्होंने कहा कि देश के किसी भी राज्य में स्थानीय रूप से राजनीतिक स्थिरता वहां के व्यवसायों को स्वाभाविक रूप से बढ़ावा देती है, यही कारण है कि जिन राज्यों में राजनीतिक स्थिरता है, उन राज्यों में अधिक निवेश होता है। उत्तराखंड की कई सीमाएं देश के अन्य राज्यों के साथ मिलती हैं, इसलिए हम भी व्यापार को अधिक महत्व देते हैं।
व्यापार को आसान बनाने यानी ईज़ ऑफ डूइंग बिजनेस की दिशा में भारत सरकार के प्रयासों की सराहना करते हुए प्रकाश पंत ने कहा कि ईज़ ऑफ डूइंग बिजनेस उत्तराखंड सरकार की भी प्राथमिकता है और हम विभिन्न स्तरों और मापदंडों पर सुधार का काम कर रहे हैं, ताकि उत्तराखंड में निवेश को बढ़ाया जा सके। उत्तराखंड में विभिन्न बुनियादी क्षेत्रों में हुई प्रगति के बारे में प्रकाश पंत ने कहा कि उनका ध्यान स्वास्थ्य सेवाओं और सुविधाओं को बढ़ावा देने और उन्हें बेहतर बनाने पर है, जिसके लिए उत्तराखंड सरकार उद्योगपतियों से संपर्क कर रही है। उन्होंने बताया कि उत्तराखंड में टेलीमेडिसिन और टेली-रेडियोलॉजी सेवाओं की शुरुआत कर दी गई है। उन्होंने कहा कि सरकार मेडिकल पर्यटन को बढ़ावा देने के विकल्पों की भी तलाश कर रही है।
सिडकुल यानी एसआईआईडीसीयूएल के प्रबंध निदेशक डॉ राजेश कुमार और उत्तराखंड सरकार में उद्योग विभाग के निदेशक ने उत्तराखंड में निवेश परिवेश, नीतियों और निवेश अवसरों पर एक प्रेजेंटेशन दिया। राज्य में नए कारोबार स्थापित करने की संभावनाओं के बारे में डॉ राजेश कुमार ने विस्तार से कहा कि उत्तराखंड में विशाल रूपसे लैंड बैंक उपलब्ध हैं और हम इन ज़मीनों को सब्सिडी दरों पर निवेशकों को दे सकते हैं। उन्होंने कहा कि हम भारत सरकार की रीजनल कनेक्टिविटी स्कीम के अंतर्गत 3-4 नए एयर स्ट्रिप्स भी तैयार कर रहे हैं, ताकि उत्तराखंड के लिए कनेक्टिविटी को बेहतर बनाया जा सके और वहां व्यावसायिक गतिविधियों को और भी ज्यादा बढ़ाया जा सके।
उत्तराखंड में निवेश के परिदृश्य पर उन्होंने कहा कि उत्तराखंड सरकार निवेश के लिए थाइलैंड और चीन की कंपनियों से बीतचीत कर रही है। डॉ राजेश कुमार ने बताया कि उत्तराखंड के पर्यटन क्षेत्र के विस्तार और सुविधाजनक बनाने के लिए उत्तराखंड सरकार नए हवाई अड्डों का विकास कर रही है, ताकि तीर्थ यात्रियों को 'चार धाम यात्रा' के लिए विभिन्न प्रकार की सुविधाएं दी जा सकें। उत्तराखंड सरकार की उद्योग विभाग की प्रमुख सचिव मनीषा पंवार और सीआईआई उत्तराखंड राज्य परिषद के अध्यक्ष विकास गर्ग ने भी सत्र को संबोधित किया।

हिन्दी या अंग्रेजी [भाषा बदलने के लिए प्रेस F12]