स्वतंत्र आवाज़
word map

दिल्ली-मुंबई के बीच में नई स्पेशल रेल

दोनों मेट्रो शहरों में प्रभावी परिवहन संपर्क के प्रयास

काफी समय से चली आ रही यात्रियों की मांग पूरी

स्वतंत्र आवाज़ डॉट कॉम

Saturday 14 October 2017 05:03:47 AM

delhi-mumbai new special rail

नई दिल्ली। भारतीय रेल मंत्रालय यात्रियों की लंबे समय से चली आ रही मांग पूरी करने तथा दिल्ली एवं मुंबई के दो मेट्रो शहरों के बीच यात्रियों को त्वरित एवं सुविधाजनक संपर्क उपलब्ध कराने के लिए इस साल 16 अक्तूबर से दिल्ली-मुंबई के बीच एक नई स्पेशल राजधानी एक्सप्रेस की शुरुआत करने जा रहा है। इस रेलगाड़ी में परिवर्तनशील किराया प्रणाली व्यावहार्य नहीं होगी। भारतीय रेल पहले ही दिल्ली-मुंबई के बीच दो राजधानी एवं 30 से अधिक मेल और एक्सप्रेस रेलगाड़ियों का संचालन कर रही है। भारत की राजधानी दिल्ली एक महत्वपूर्ण व्यावसायिक, परिवहन एवं सांस्कृतिक केंद्र के रूप में ऐतिहासिक महत्व का नगर है तथा भारत का राजनीतिक केंद्र भी है। मुंबई भारत की व्यावसायिक एवं वित्तीय राजधानी है तथा महाराष्ट्र राज्य की राजधानी भी है, दोनों ही शहर देश के महत्वपूर्ण व्यावसायिक केंद्र हैं, इसलिए इन दोनों शहरों के बीच कारगर और प्रभावी परिवहन संपर्क की बेहद आवश्यकता है।
नई राजधानी एक्सप्रेस रेलगाड़ी से यात्रा समय में लगभग 15 घंटे 50 मिनट की तुलना में 13 घंटे 55 मिनट का समय लगेगा, जिससे यात्रा समय में लगभग 2 घंटे की बचत होगी। एक ही रेक के उपलब्ध होने के कारण नई सेवा के सप्ताह में तीन दिन चलने वाली विशिष्ट सेवा के रूपमें यह योजना बनाई गई है, जो दिल्ली-मुंबई के बीच तेज रफ्तार रेल संपर्क उपलब्ध कराएगी और यात्रियों को बेहतर सुविधाएं प्रदान करेगी। यात्रियों को प्राप्त होने वाली कुछ सुविधाएं इस प्रकार हैं-इससे यात्रियों के समय की बचत होगी, यह यात्रियों को ट्रैफिक के व्यस्ततम समय से बचाने में सक्षम बनाएगा। यात्रियों को रेलगाड़ी में तरोताजा होने की जरूरत नहीं होगी, क्योंकि वह तड़के सुबह ही अपने गंतव्य स्थान पर पहुंच जाएंगे। यात्री अपने रोजमर्रा के कार्यक्रम के अनुसार अपने कार्यालय पहुंच सकते हैं। यह रेलगाड़ी केवल कोटा, वडोदरा और सूरत स्टेशनों पर रुकेगी। पहली स्पेशल राजधानी हजरत निजामुद्दीन से 16 अक्तूबर 2017 को रवाना होगी। स्पेशल राजधानी एक्सप्रेस में 1 फर्स्ट एसी वातानुकूलित कोच, 2 सेकेंड एसी एवं 12 थर्ड एसी और 1 पैन्ट्री कार होगा।
बेहतर गतिवृद्धि, धीमी गति तथा उच्चतर रफ्तार के लिए दो लोकोमोटिव 2 डब्ल्यूएपी-5 (प्रत्येक 5400 हॉर्सपावर) द्वारा इस रेलगाड़ी को खींचा जाएगा। रेलगाड़ी की अधिकतम गति 130 किलोमीटर प्रतिघंटे होगी। यह विशेष रेलगाड़ी निजामुद्दीन से सायं 16:15 बजे रवाना होगी और अगले दिन सुबह 6 बजे बांद्रा टर्मिनस पहुंचेगी। यात्रा में 13 घंटे 55 मिनट का समय लगेगा। निजामुद्दीन से रेलगाड़ी के रवाना होने के दिन बुधवार, शुक्रवार और रविवार हैं। यह रेलगाड़ी बांद्रा टर्मिनस से सायं 16:05 बजे रवाना होगी तथा अगले दिन सुबह 6 बजे हजरत निजामुद्दीन पहुंचेगी। बांद्रा टर्मिनस से रेलगाड़ी के रवाना होने के दिन मंगलवार, गुरूवार और शनिवार हैं। यह रेलगाड़ी 16 अक्तूबर से 16 जनवरी 2018 तक तीन महीनों के लिए प्रायोगिक आधार पर चलाई जाएगी, जिससे कि वर्तमान परिवर्तनशील किराए के मुकाबले किराए में फ्लैट बढ़ोतरी की अवधारणा के बारे में यात्रा करने वाले लोगों के रिस्पांस का पता लगाया जा सके। इसमें एआरपी के खुलने के दिन बुकिंग के लिए सभी बर्थ उपलब्ध होंगे, ऐच्छिक कैटरिंग की सुविधा होगी तथा व्यस्ततम घंटों से पहले ही मुंबई-दिल्ली में यात्री पहुंच सकेंगे।
राजधानी एक्सप्रेस रेलगाड़ी में उपलब्ध सेवाओं का आयोजन रेलवे की सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन लिमिटेड कर रही है। राजधानी रेलगाड़ियों के वर्तमान मैन्यू एवं टैरिफ के अनुसार कैटरिंग सेवाएं ऐच्छिक होंगी। यात्रियों के पास कैटरिंग सेवाओं का लाभ न लेने का विकल्प होगा। शाम की चाय और डिनर का प्रावधान होगा। राजधानी एक्सप्रेस रेलगाड़ी की किराया संरचना में परिवर्तनीय किराया घटक नहीं होगा, इसका किराया या नई सेवाएं वर्तमान मुंबई राजधानी के लिए बिना परिवर्तनशील किराए के मूल किराए से 20 प्रतिशत अधिक होंगी। स्पेशल राजधानी में थर्ड एसी का किराया मुंबई राजधानी में थर्ड एसी के अधिकतम परिवर्तनशील किराए की तुलना में 500-600 रुपये सस्ता अर्थात 19 प्रतिशत सस्ता होगा। स्पेशल राजधानी में सेकेंड एसी का किराया मुंबई राजधानी में सेकेंड एसी के अधिकतम परिवर्तनशील किराए की तुलना में 700-800 रुपये सस्ता अर्थात 19 प्रतिशत सस्ता होगा।

हिन्दी या अंग्रेजी [भाषा बदलने के लिए प्रेस F12]