स्वतंत्र आवाज़
word map

अफ्रीका में रामनाथ कोविद का जोरदार स्वागत

भारत-जिबूती में नियमित राजनीतिक सलाह हेतु अनुबंध

पैंतालीस वर्ष में भारत के राष्ट्रपति की इथोपिया यात्रा

स्वतंत्र आवाज़ डॉट कॉम

Thursday 5 October 2017 02:05:40 AM

president of djibouti ismail omar guelleh and president ramnath kovid

जिबूती/ नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविद के अफ्रीका दौरे पर जिबूती के राष्ट्रपति पैलेस में जोरदार औपचारिक स्वागत किया गया। उन्होंने जिबूती गणराज्य के राष्ट्रपति इस्माइल उमर गुलेह के साथ सलामी गारद का निरीक्षण किया। राष्ट्रपति रामनाथ कोविद की अगुवाई में प्रतिनिधिमंडल स्तर की बातचीत का आयोजन किया गया। दोनों राष्ट्रपतियों की उपस्थिति में विदेशी कार्यालय पर भारत और जिबूती के बीच नियमित राजनीतिक सलाह स्थापित करने के लिए अनुबंध पर हस्ताक्षर किए गए।
राष्ट्रपति रामनाथ कोविद जिबूती का दौरा करने वाले प्रथम भारतीय राष्ट्रपति हैं। उन्होंने एक बैठक में आतंकवाद, नवीकरणीय ऊर्जा और अंतर्राष्ट्रीय सौर संधि की सदस्यता, भारतीय महाद्वीप क्षेत्र में समुद्री सहयोग के लिए जिबूती के सहयोग का उल्लेख किया और जिबूती के युवाओं के लिए रोज़गार के अवसरों को बढ़ाने के लिए भारत द्वारा सहयोग निर्माण क्षमता और तकनीकी का विशेष उल्लेख किया। जिबूती पूर्वी अफ्रीका में बसा एक देश है, जिसकी सीमाएं उत्तर में इरीट्रिया से, पश्चिम और दक्षिण में इथियोपिया से और दक्षिण पूर्व में सोमालिया से मिलती हैं, इसके अलावा लाल सागर और गल्फ ऑफ अदन से मिलती देश की सीमाएं हैं। महज 23 हजार वर्ग किलोमीटर में फैले इस देश की आबादी पांच लाख से कुछ ज्यादा है। इसकी राजधानी जिबूती है। देश की आबादी का पांचवा हिस्सा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गरीबी रेखा के लिए तय 1.25 डालर प्रति दिन से कम आय अर्जित करता है।
राष्ट्रपति रामनाथ कोविद ने 2015 में संघर्षरत यमन में वहां से भारत के नागरिकों को सुरक्षित निकालने के लिए ऑपरेशन राहत में जिबूती के सहयोग के लिए राष्ट्रपति इस्माइल उमर गुलेह का विशेष तौरपर धन्यवाद किया। राष्ट्रपति ने जिबूती गणराज्य के राष्ट्रपति की मेजबानी में दोपहर के राजभोज में हिस्सा लिया। इसके बाद दो देशों के अफ्रीका दौरे के दूसरे चरण में रामनाथ कोविद इथोपिया की राजधानी अदीस अबाबा के लिए रवाना हुए। अदीस अबाबा में अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर इथोपिया संघीय लोकतांत्रिक गणराज्य के राष्ट्रपति डॉ मुलातू तिशोम की विशेष उपस्थिति में राष्ट्रपति रामनाथ कोविद का स्वागत किया गया।
राष्ट्रपति रामनाथ कोविद को सलामी गारद प्रदान किया गया और उन्होंने इथोपिया के सांस्कृतिक संगीत कार्यक्रम का आनंद भी लिया। राष्ट्रपति रामनाथ कोविद पिछले 45 वर्ष में इथोपिया का दौरा करने वाले भारत के पहले और अब तक इथोपिया का दौरा करने वाले तीसरे भारतीय राष्ट्रपति हैं। इससे पहले पूर्व राष्ट्रपति वीवी गिरि ने वर्ष 1972 और राष्ट्रपति एस राधाकृष्णन ने वर्ष 1965 में इथोपिया का दौरा किया था।

हिन्दी या अंग्रेजी [भाषा बदलने के लिए प्रेस F12]