स्वतंत्र आवाज़
word map

सुकन्या समृद्धि से समृद्ध हुआ कांकेलाव गाँव

जोधपुर के 11 गांव संपूर्ण सुकन्या समृद्धि योजना ग्राम

निदेशक डाक सेवाएं ने दिए बालिकाओं को उपहार

स्वतंत्र आवाज़ डॉट कॉम

Friday 8 September 2017 06:23:45 AM

director postal kk yadav providing sukanya scheme passbook to a girl child

जोधपुर। जोधपुर जिले का कांकेलाव गाँव भी सम्पूर्ण सुकन्या समृद्धि योजना ग्राम बन गया है। इस प्रकार अब तक जोधपुर में 11 गांव सम्पूर्ण सुकन्या समृद्धि योजना ग्राम हो गए हैं। राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र जोधपुर के डाक सेवाओं के निदेशक केके यादव ने इसपर कहा है कि सुकन्या समृद्धि योजना बेटियों के आर्थिक सशक्तिकरण में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है। कृष्ण कुमार यादव ने जोधपुर जिले की लूणी पंचायत समिति के कांकेलाव गाँव को सम्पूर्ण सुकन्या समृद्धि योजना ग्राम घोषित करने के अवसर पर एक कार्यक्रम में बेटियों के लिए उद्गार प्रकट करते हुए कहा कि बेटियों के बिना यह जग सूना है, बेटियां पढ़ेंगी तो बेटियां बढ़ेंगी, किंतु इसके लिए जरुरी है कि उनकी उच्च शिक्षा के पर्याप्त प्रबंध किए जाएं। उन्होंने कहा कि 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' के लिए ही डाकघरों में सुकन्या समृद्धि योजना आरंभ की गई है।
जोधपुर का कांकेलाव गांव सभी योग्य 105 बालिकाओं के सुकन्या खाते खोलकर अन्य गांवों के लिए एक नजीर बन गया है। डाक निदेशक कृष्ण कुमार यादव ने बालिकाओं को पासबुकें और उपहार देकर उनके सुखी और समृद्ध भविष्य की कामना की। कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि सुकन्या समृद्धि योजना सिर्फ निवेश का एक माध्यम नहीं समझी जाए, बल्कि यह बालिकाओं के उज्ज्वल और समृद्ध भविष्य से भी जुड़ी है, इस योजना के समृद्ध आर्थिक पक्ष के साथ-साथ सामाजिक सशक्तिकरण के आयाम भी उतने ही महत्वपूर्ण हैं। उन्होंने कहा कि इसमें जमा धनराशि पूर्णतया बेटियों के लिए ही होगी, जो उनकी शिक्षा, कैरियर एवं विवाह में उपयोगी होगी।
निदेशक डाक सेवाएं ने कहा कि आर्थिक और सामाजिक समावेशन से जल्द ही ग्रामीण पोस्टमैन चलते-फिरते एटीएम की भूमिका निभाएंगे। उन्होंने बताया कि ग्रामीण सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी प्रोजेक्ट के तहत जोधपुर के ग्रामीण शाखा डाकघरों को भी शीघ्र हाईटेक किया जा रहा है, वहां परहैंडहेल्ड डिवाइस भी दिया जाएगा। शाखा डाकघरों को ऑनलाइन और डिजिटल बनाने के लिए सोलर चार्जिंग उपकरणों से जोड़ने के साथ-साथ मोबाइल थर्मल प्रिंटर, स्मार्ट कार्ड रीडर, फिंगर प्रिंट स्कैनर, डिजिटल कैमरा एवं सिगनेचर और दस्तावेज़ स्कैनिंग के लिए यंत्र भी मुहैया कराया जाएगा, ताकि ग्रामीण लोगों को इन सुविधाओं के लिये शहरों की तरफ न भागना पड़े और घर बैठे ही वे अपना भुगतान प्राप्त कर सकें।
केके यादव ने कहा कि यह प्रोजेक्ट प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया मिशन को भी पूरा करता है, शाखा डाकघरों में स्पीड पोस्ट बुकिंग सुविधा आरंभ की ही जा चुकी है। कार्यक्रम में जोधपुर डाक मंडल के प्रवर डाक अधीक्षक बीआर सुथार ने कहा कि आज भी डाकघरों की बचत योजनाएं सर्वाधिक लोकप्रिय हैं और इनमें लोग पीढ़ी दर पीढ़ी पैसे जमा करते आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि डाकघरों में हर वर्ग और उम्र के हर पड़ाव के लिए अलग-अलग बचतऔर बीमा योजनाएं हैं। उन्होंने डाकघर में खुले समस्त खातों को आधार और मोबाइल नंबर से जोड़ने पर भी जोर दिया, जिससे भविष्य में आने वाली सभी सरकारी योजनाओं का लाभ ग्राहकों को मिल सके।
कांकेलाव गांव की सरपंच सुगना पालीवाल ने कहा कि बालिकाओं के आर्थिक सशक्तिकरण की दिशा में यह प्रयास एक मील का पत्थर होगा। उन्होंने कहा कि ग्रामवासियों के लिए यह अत्यंत गर्व की बात है कि उनका गांव बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान को मूर्त रूप दे रहा है। कार्यक्रम में सहायक डाक अधीक्षक उदय सेजू, विनय खत्री, राजेंद्र सिंह भाटी, डाक निरीक्षक संदीप मोदी, पारसमल सुथार, शाखा डाकपाल कांकेलाव गणपत, कोजाराम, डाक विभाग के तमाम कर्मचारी, स्थानीय जनप्रतिनिधि व गांववासी उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन विनय खत्री ने किया।

हिन्दी या अंग्रेजी [भाषा बदलने के लिए प्रेस F12]