स्वतंत्र आवाज़
word map

यूपी में प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि केंद्र

निर्धन वंचित वर्गों को मिलेंगी अच्छी व सस्ती दवाइयां

केंद्र और यूपी में हुए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर

स्वतंत्र आवाज़ डॉट कॉम

Thursday 10 August 2017 07:08:03 AM

pradhan mantri bhartiya janaushadhi pariyojana website for uttar pradesh

लखनऊ। केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग, नौवहन और रसायन एवं उर्वरक राज्यमंत्री मनसुख लाल मांडवीय ने भारत सरकार और उत्तर प्रदेश सरकार के बीच राज्य में 1000 प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि केंद्र खोलने के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर कार्यक्रम की अध्यक्षता की। यह कार्यक्रम आज उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह और स्वास्थ्य राज्यमंत्री डॉ महेंद्र सिंह की उपस्थिति में लखनऊ में हुआ। रसायन और उर्वरक मंत्रालय के अंतर्गत भारत के फार्मा ब्यूरो पीएसयू ने भारत सरकार की तरफ से तथा उत्तर प्रदेश सरकार के व्यापक स्वास्थ्य और एकीकृत सेवा राज्य एजेंसी ने ज्ञापन समझौते पर हस्ताक्षर किए।
राज्यमंत्री मनसुख लाल मांडवीय ने इस अवसर पर कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नजरिये के अनुसार पीएमबीजेपी योजना के अंतर्गत समाज के निर्धन और वंचित वर्गों को अच्छी और सस्ती दवाइयां दिलाना सरकार की प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि इसके अंतर्गत उपलब्ध दवाएं उच्चतम गुणवत्ता के मानदंडों को पूरा करती हैं और सरकार द्वारा महंगी बड़ी कंपनियों की तुलना में बहुत कम कीमत पर उपलब्ध कराई जाती हैं। उन्होंने यह भी कहा कि कार्डिएक स्टेंट की लागत लगभग 85 प्रतिशत कम कर दी गई है, जिससे उन गरीब मरीजों को फायदा होगा, जो पहले उन्हें वहन नहीं कर सकते थे। मनसुख लाल मांडवीय ने बताया कि पीएमबीजेपी योजना के अंतर्गत देशभर में खोले गए जन औषधि केंद्रों पर 600 से अधिक दवाएं और 150 से अधिक शल्य चिकित्सा और अन्य चिकित्सा वस्तुओं को सस्ती दरों पर उपलब्ध कराया जा रहा है। इस योजना के अंतर्गत उपलब्ध दवाइयों की संख्या जल्द ही बढ़ाकर 1000 कर दी जाएगी।
मनसुख लाल मांडवीय ने कहा कि इस योजना के अंतर्गत केंद्र खोलने वाले लोगों को भारत सरकार 2,50,000 रुपए तक की वित्तीय सहायता दे रही है। उत्तर प्रदेश सरकार में स्वास्‍थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा कि ये 1000 स्टोर सरकारी अस्पतालों और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में खोले जाएंगे, ताकि समाज के अधिक से अधिक ग़रीब और वंचित वर्ग इस योजना का लाभ उठा सकें। उन्होंने यह भी सूचित किया कि मंत्रिमंडल ने पहले ही अस्पताल परिसरों में केंद्र खोलने की मंजूरी दे दी है और करीब 400 जन-औषधि केंद्रों का आवंटन किया जा चुका है। कार्यक्रम के दौरान मनसुख लाल मांडवीय ने राज्य के लिए पीएमबीजेपी योजना की वेबसाइट का भी उद्घाटन किया। वेबसाइट से लोगों को इस योजना के बारे में अधिक जानकारी, जन-औषधि केंद्रों की स्थिति और उस समय उपलब्ध दवाइयों और उनकी कीमतों के बारे में और जानने में सहायता मिलेगी। इस अवसर पर औषधि विभाग में संयुक्त सचिव सुधांशु पंत, संघ और राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

हिन्दी या अंग्रेजी [भाषा बदलने के लिए प्रेस F12]