स्वतंत्र आवाज़
word map

देश के लिए सभी युवा एकजुट हों-महंत देव्या

भारत छोड़ो आंदोलन की वर्षगांठ पर शहीदों को श्रद्धांजलि

मनकामेश्वर मठ मंदिर से 14 अगस्त को तिरंगा यात्रा

स्वतंत्र आवाज़ डॉट कॉम

Wednesday 9 August 2017 01:26:39 AM

wreath at gandhi statue

लखनऊ। मनकामेश्वर मठ मंदिर की महंत देव्या गिरि ने देश की एकता और अखंडता के लिए युवाओं और सभी वर्ग समुदाय का एकजुट होने का आह्वान किया है और कहा है कि चीनी सामान का बहिष्कार हो या फिर पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देना हो, इसके लिए युवा तैयार रहें। महंत देव्या गिरि ने भारत छोड़ो आंदोलन की 75वीं वर्षगांठ से पूर्व शहीदों को याद करते हुए कहा कि किसी भी आंदोलन में युवाओं की भूमिका बहुत ही अहम होती है, भारत छोड़ो आंदोलन में वरिष्ठ नेताओं की गिरफ्तारी के बाद युवाओं ने खुद ही आंदोलन का नेतृत्व करना शुरू कर दिया था, वह देश को अंग्रेजों से मुक्त कराने के लिए सड़क पर उतरकर मरने-मारने को तैयार थे, उसी प्रकार आज युवाओं को देश की एकता और अखंडता के लिए खुद नेतृत्व करना होगा।
महंत देव्या गिरि ने क़ैसरबाग में गांधी भवन में गांधी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा कि अमूमन लोग नौ अगस्त को भारत छोड़ो आंदोलन की शुरुआत मानते हैं, पर बहुत कम लोगों को यह पता है कि ये आंदोलन आठ अगस्त 1942 से आरंभ हुआ था, इस दिन बंबई के गोवालिया टैंक मैदान पर अखिल भारतीय कांग्रेस महासमिति ने यह प्रस्ताव पारित किया था, जिसे भारत छोड़ो प्रस्ताव कहा जाता है, इसके बाद से ही ये आंदोलन व्यापक स्तर पर आरंभ हुआ था जिसमें देश के युवाओं ने बढ़चढ़कर भाग लिया। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी के नेतृत्व में शुरू हुआ यह आंदोलन आज़ादी की सोची-समझी रणनीति का हिस्सा था। इस आंदोलन की खास बात यह थी कि इसमें पूरा देश शामिल हुआ। महंत देव्या गिरि ने ज़िक्र किया कि इस आंदोलन के शुरू होते ही महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू, सरदार वल्लभभाई पटेल, आजाद और अन्य कई बड़े नेताओं को गिरफ्तार कर लिया गया था, इसकी प्रतिक्रिया में लोगों ने अंग्रेजों को मुंहतोड़ जवाब दिया था।
महंत देव्या गिरि ने युवाओं से कहा कि ऐसी ही स्थिति आज बन रही है, जिसमें भारत को अक्षुण रखने और चीन पाकिस्तान जैसे हमलावरों को मुहतोड़ जवाब देने के लिए हिंदुस्तान के युवाओं को ऐसा ही कुछ करना होगा। उन्होंने कहा कि हमारे देश के जवान सीमा की रक्षा के लिए आए दिन शहीद हो रहे हैं, भारत के दुश्मनों को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए ठोस आंदोलनात्मक पहल करनी होगी। जिला एकीकरण समिति की बैठक में राष्ट्रवाद की प्रेरणा के लिए एक प्रस्ताव पारित कर निर्णय लिया गया है कि मनकामेश्वर मठ मंदिर की ओर से 14 अगस्त को तिरंगा यात्रा भी निकाली जाएगी, जिसमें बड़ी संख्या में सभी धर्म संप्रदाय के लोगों की भागीदारी होगी। इस कार्यक्रम में अवनीश त्रिवेदी, राजकुमार, विक्की, उपमा पांडेय, रितु, मुकेश, नीरज, अंकिता, तुलसी, रूपाली, नेहा, अखिलेश्वर, गौरजा आदि लोग मौजूद थे।

हिन्दी या अंग्रेजी [भाषा बदलने के लिए प्रेस F12]