स्वतंत्र आवाज़
word map

शरद पांडेय की कलाकृतियों की प्रदर्शनी

कृतित्व बिना शीर्षक के संवाद करते हैं-राज्यपाल

ललित कला अकादमी अलीगंज में उद्घाटन

स्वतंत्र आवाज़ डॉट कॉम

Friday 7 July 2017 12:30:45 AM

exhibition 'art journey of sharad pandey' inaugurated by lalit kala academy

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने विख्यात चित्रकार शरद पांडेय की पहली पुण्यतिथि पर उनकी पत्नी नलिनी पांडेय द्वारा आयोजित प्रदर्शनी ‘आर्ट जर्नी आफ शरद पांडेय’ का ललित कला अकादमी अलीगंज में उद्घाटन किया। इस अवसर पर चित्रकार एवं प्रधानाचार्य आर्किटेक्चर कालेज लखनऊ डॉ वंदना सहगल, प्रख्यात फोटोग्राफर रवि कपूर और कई अन्य कलाकार एवं कला प्रेमीजन उपस्थित थे। राज्यपाल ने प्रदर्शनी का अवलोकन किया और कहा कि वे ललित कला अकादमी में तो कई बार आए हैं, लेकिन मैने पाया है कि इस प्रदर्शनी की अपनी अलग ही विशेषता है।
राज्यपाल राम नाईक ने कहा कि उनका चित्रकार शरद पांडेय से परिचय तो नहीं था, लेकिन जब उन्हें उनके व्यक्तित्व के बारे में बताया गया तो लगा कि यहां आना मेरा फर्ज़ है, मेरा यहां आने का निर्णय यादगार रहेगा। उन्होंने कहा कि जो दुनिया में आता है वह जाता भी है, मगर जाने से पहले उसने क्या किया, उसका जीता जागता प्रमाण हम देख रहे हैं, देश का एक अच्छा चित्रकार जल्दी चला गया, मगर प्रदर्शनी के माध्यम से वे अमर हो गए। उन्होंने कहा कि पति की स्मृति में उनकी कला कृतियों की प्रदर्शनी आयोजित करना अनुकरणीय कार्य है, उनका काम शांति देने वाला कदम है जिसमें रंग, ब्रश और कलम की जीती जागती ताकत भी दिखती है।
राम नाईक ने कहा कि न बोलते हुए सब कुछ बता देना ही कला है और यही चित्रकला की श्रेष्ठता है। उन्होंने कहा कि कृतित्व बिना शीर्षक के संवाद करते हैं, जैसे कि वे चित्र न होकर सजीव हों। उन्होंने कहा कि कला समाज के लिए एक खजाना है, चित्र देखकर मन को समाधान मिलता है। उन्होंने कहा कि कला के छात्रों के लिए यह प्रदर्शनी खजाना देखने जैसा अवसर है। राज्यपाल ने चरैवेति! चरैवेति!! को उद्धृत करते हुए कहा कि चलते रहना ही जीवन और सफलता का मंत्र है। उन्होंने अपने बचपन में चित्र बनाने के प्रसंग का भी उल्लेख किया। कार्यक्रम में डॉ वंदना सहगल, रवि कपूर ने भी शरद पांडेय की कलाकृतियों एवं उनके व्यक्तित्व पर संक्षिप्त प्रकाश डाला। कार्यक्रम का संचालन प्रोफेसर साबरा हबीब ने किया।

हिन्दी या अंग्रेजी [भाषा बदलने के लिए प्रेस F12]