स्वतंत्र आवाज़
word map

गृह विभाग की आपदा जोखिम पर वेबसाइट

वेबसाइट पर एनपीडीआरआर से संबंधित सभी सूचनाएं

गृह राज्यमंत्री हंसराज अहीर ने किया उद्घाटन

स्वतंत्र आवाज़ डॉट कॉम

Thursday 6 April 2017 04:44:56 AM

hansraj gangaram ahir launching an exclusive website

नई दिल्ली। केंद्रीय गृह राज्यमंत्री हंसराज गंगाराम अहीर ने आज आपदा जोखिम न्यूनीकरण पर राष्ट्रीय मंच की आगामी दूसरी बैठक के लिए वेबसाइट की शुरूआत की। एनपीडीआरआर से संबंधित सभी सूचनाओं को साझा करने और बैठक के बारे में दैनिक आधार पर प्रतिनिधियों को अद्यतन रखने के लिए यह एक विशेष वेबसाइट है। एनपीडीआरआर की दूसरी बैठक इस वर्ष नई दिल्ली में अप्रैल के आखिरी सप्ताह में आयोजित होगी और बैठक का विषय 'स्थायी विकास के लिए आपदा जोखिम न्‍यूनीकरण: भारत को 2030 तक लचीला बनाना' है।
एनपीडीआरआर की पहली बैठक 13 मई 2013 को नई दिल्ली में आयोजित की गई थी, जिसका विषय था 'विकास में मुख्‍यधारा डीआरआर-जोखिम से लचीलापन'। एनपीडीआरआर केंद्रीय गृहमंत्री की अध्यक्षता वाला एक बहु हितधारक राष्ट्रीय मंच है, जिसमें केंद्र सरकार, राज्य सरकार, स्थानीय स्वशासन, संसद, आपदा से संबंधित विशेष एजेंसियों, राष्ट्रीय महत्व के संस्थानों, उद्योग, मीडिया, सिविल सोसायटी संगठनों के प्रतिनिधि शामिल हैं। यह आपदा प्रबंधन में भागीदारी निर्णय लेने में भागीदारी को बढ़ावा देता है और देश की संघीय नीति को मजबूत बनाता है।
एनपीडीआरआर की दूसरी बैठक में उद्घाटन और निर्णायक सत्रों के अलावा, एक पूर्ण सत्र, 5 तकनीकी सत्र, विशेष मंत्रिस्‍तरीय सत्र और इस एनपीडीआरआर के पूर्व आयोजनों पर एक सत्र शामिल हैं। यह बैठक भागीदारों को 2016 में आयोजित आपदा जोखिम न्‍यूनीकरण के लिए एशियाई मंत्रिस्तरीय सम्मेलन, एशिया क्षेत्र योजना 2016 और डीआरआर पर प्रधानमंत्री के 10 सूत्रीय एजेंडा सहित आपदा जोखिम न्‍यूनीकरण के बारे में वैश्विक और राष्ट्रीय स्तर की महत्वपूर्ण पहलों के बारे में प्रतिभागियों को संवेदनशील बनाएगी। हमारे देश को आपदा लचीलापन बनाने के लिए डीआरआर पर सेंडाई फ्रेमवर्क के चार प्राथमिकता वाले क्षेत्रों से संबंधित विभिन्न कार्य करने वाले बिंदुओं पर विचार-विमर्श किया जाएगा।
एनपीडीआरआर के सदस्यों, राज्य, केंद्रशासित प्रदेशों की सरकारों, केंद्र सरकार, सार्वजनिक क्षेत्र के संगठनों, राष्ट्रीय महत्व की संस्थानों, निजी क्षेत्र, वित्तीय संस्थानों, पेशेवर विशेषज्ञों और गैर-सरकारी संगठनों के चयनित प्रतिभागियों सहित लगभग करीब 1,000 प्रतिभागियों की इस बैठक में भाग लेने की संभावना है। आपदा प्रबंधन में नागरिकों की भागीदारी को बढ़ाने के लिए 31 मार्च 2017 को आपदा प्रबंधन में एनपीडीआरआर की भूमिका पर एक राष्ट्रीय स्तर की नारा लेखन प्रतियोगिता शुरू की गई है। वेबसाइट का http://npdrr2-mha.net.in पता है।

हिन्दी या अंग्रेजी [भाषा बदलने के लिए प्रेस F12]