स्वतंत्र आवाज़
word map

सरोजनीनगर में सपा के लिए 'फील गुड'

सजातीयों की लड़ाई में अनुराग यादव पहली पसंद

सांसद धर्मेंद्र यादव की जोरदार नुक्कड़ सभाएं

स्वतंत्र आवाज़ डॉट कॉम

Saturday 11 February 2017 02:47:40 AM

anurag yadav kee nukkad sabha, srojninagr

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के स्टार प्रचारक और सांसद धर्मेंद्र यादव ने लखनऊ के प्रतिष्ठापूर्ण सरोजनीनगर विधानसभा क्षेत्र के नटकुर गिंदनखेड़ा अलीनगर सुनहरा, गहरू, गौरी, वृंदावन, हिंदनगर, औरंगाबाद, रायल सिटी, पकरीपुल जैसे और भी स्थानों पर नुक्कड़ सभाएं करके सपा-कांग्रेस गठबंधन के प्रत्याशी अनुराग यादव को भारी मतों से जिताने की अपील की। गौरतलब है कि अनुराग यादव सपा सुप्रीमों परिवार के प्रमुख सदस्य हैं, जिससे सरोजनीनगर भी उत्तर प्रदेश के विशिष्ट विधानसभा क्षेत्रों की सूची से जुड़ गया है। यहां यह बात भी उल्लेखनीय है कि जातीय समीकरणों के बड़े उलटफेर और इस क्षेत्र में विकास के बड़े कार्य होने से यह सीट सपा नेतृत्व की पसंदीदा सीटों में शामिल है। इसी से सरोजनीनगर में सपा कार्यकर्ताओं के हौसले बुलंद हैं और वे आश्वस्त हैं कि उत्तर प्रदेश में फिर से सपा की सरकार बनने पर अनुराग यादव को मंत्री बनाया जाएगा और वे शारदाप्रताप शुक्ला से कहीं ज्यादा प्रभावशाली मंत्री होंगे।
सपा के स्टार प्र्रचारक धर्मेंद्र यादव ने सपा प्रत्याशी अनुराग यादव के लिए नुक्कड़ सभाएं करके भाजपा बसपा और सभी प्रत्याशियों को संघर्ष में धकेल दिया है। उन्होंने युवाओं, बुजुर्ग, महिलाओं, किसानों, व्यापारियों और क्षेत्रवासियों से 19 फरवरी को साइकिल का बटन दबाकर अखिलेश यादव के लिए उनके पुनः मुख्यमंत्री बनने का मार्ग प्रशस्त करने की अपील की है। सरोजनीनगर विधानसभा के नटकुर और बाबूखेड़ा में उनकी जोरदार नुक्कड़ सभा हुई, जिसमें धर्मेंद्र यादव ने कहा कि पूरे उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी की लहर है और इस लहर को जीत के तूफान में बदलने की जिम्मेदारी सभी पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं की है। उन्होंने कहा कि अखिलेश सरकार के विकास कार्यक्रमों एवं नीतियों को कार्यकर्ता जन-जन तक पहुंचाएं।
सांसद धर्मेंद्र यादव ने कहा भी कि प्रदेश की सभी विधानसभाओं से अधिक विकास सरोजनीनगर विधानसभा में हुआ है, जहां मेट्रो, आगरा एक्सप्रेस-वे, मिड डे मिल, मेदांता अस्पताल, आईटी सिटी, अमूल डेयरी आदि योजनाओं की शुरूआत हुई है और यही नहीं, इस विधानसभा के सबसे ज्यादा गांवों को लोहियाग्राम और जनेश्वरग्राम की योजनाओं से विकसित किया गया है, यहां की सड़कें, अस्पताल, स्कूल अन्य विधानसभाओं से ज्यादा आधुनिक हैं। उन्होंने कहा कि यह सौभाग्य की बात है कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने यहां की आम जनता को अनेक योजनाओं एवं कार्यक्रमों से लाभांवित किया है। उन्होंने कहा कि सरोजनीनगर के लोग अधिक से अधिक मतों से सपा प्रत्याशी अनुराग यादव को जिताएं। बाबूखेड़ा गांव में सांसद धर्मेंद्र यादव और सपा प्रत्याशी अनुराग यादव का बड़ी तादात में मौजूद सपेरों ने बीन और ढपली बजाकर स्वागत किया। सपेरों का कहना था कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने उन्हें आवास की सुविधा उपलब्ध कराई है।
सपा प्रत्याशी अनुराग यादव नुक्कड़ सभाओं के साथ-साथ गहन जनसंपर्क भी कर रहे हैं। शांतिनगर स्थित उनके चुनाव कार्यालय पर सबसे ज्यादा भीड़भाड़ है और वे सुबह ही क्षेत्र में निकल कर लोगों से मिलना-जुलना कर रहे हैं। उनका जनसंपर्क ज्यादा प्रभावशाली दिखाई दे रहा है। उन्हें इस बात का सर्वाधिक लाभ मिल रहा है कि वे मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के भाई हैं। सांसद धर्मेंद्र यादव भी उनके सगे भाई हैं और वे सरोजनीनगर की जनता को यह विश्वास दिलाने में सफल दिख रहे हैं कि यह क्षेत्र उत्तर प्रदेश विधानसभा क्षेत्रों में विशिष्ट क्षेत्र बन चुका है, इसलिए यहां की जनता मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के हाथों को मजबूत करे। सपा प्रत्याशी अनुराग यादव के साथ बृजेश यादव, खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के सदस्य संजय सविता, प्रदेश सचिव रतन गुप्ता, प्रधान पवन सिंह, पूर्व विधायक श्याम किशोर यादव, राजेंद्र सिंह भदौरिया, साहीम खान, अखिलेश सक्सेना, मनोज सिंह काका, टाइगर, गिरधारीलाल लोधी, सुरेश रावत आदि की टीम है, जो निरंतर किसी न किसी क्षेत्र में सपा प्रत्याशी के समर्थन में सक्रिय है।
अनुराग यादव और उनके समर्थकों ने सारे क्षेत्र में दौरे कर-करके पूरी ताकत झोंकी हुई है। बंथरा, कासिमखेड़ा में उनका बेहद गर्मजोशी से स्वागत इस बात का संकेत माना जाता है कि यहां सभी दलों की टक्कर अनुराग यादव से है। बंगला बाज़ार आशियाना, शारदानगर, मोहान रोड, फतेहगंज, बालाजी मंदिर इलाके, शिवरी चौराहे, घुरघुरी तालाब, इंद्रवारा, घैलवारा, ‌बदबदा खेड़ा, तेजकिशन खेड़ा, सकरा बेलवा, तेलीबाग, पहाड़पुर, बसरवारा, धावापुर, मैमोरा, नीवा, जैतीखेड़ा, औरंगाबाद, एलडिको प्रथम, ईडब्‍ल्यूएस कॉलोनी, कानपुर रोड के इलाकों में घूमने के बाद पता चलता है कि यहां समाजवादी पार्टी का ज़ोर है और इसका सबसे मजबूत कारण यही है कि सरोजनीनगर में समाजवादी पार्टी सरकार ने विकास के इतने काम कर दिए हैं कि कोई वजह नज़र नहीं आती कि यहां सपा को भारी मतों से विजय न मिले। समाजवादी पार्टी के मंत्री रहे शारदाप्रताप शुक्ला अब सपा से निकाल दिए गए हैं और अब वे लोकदल से चुनाव लड़ रहे हैं, इसलिए सपा में उनसे भ‌ितरघात का मुद्दा भी नहीं रहा है। ब्राह्मण और ठाकुर यहां अच्छी संख्या में हैं, किंतु बसपा प्रत्याशी शिवशंकर सिंह चौहान उर्फ शंकरी सिंह, भाजपा प्रत्याशी स्वाति सिंह और निर्दलीय रुद्र दमन सिंह के सजातीय होने से सरोजनीनगर की लड़ाई अनुराग यादव के पक्ष में चली गई दिखाई देती है।

हिन्दी या अंग्रेजी [भाषा बदलने के लिए प्रेस F12]